ताजा खबरें मुख्य - पृष्ठ शिमला हिमाचल प्रदेश

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के कारण उत्पन्न स्थिति का लिया जायजा

पहली नज़र, शिमला

vishak
1

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने देश के साथ राज्य में कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए राज्य के सभी उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद किया।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निजामुद्दीन तबलीगी जमात, जिसके कारण देश में कोरोना वायरस का आंकड़ा प्रतिदिन तेजी से बढ़ रहा है, के लोगांे पर कड़ी निगरानी रखें। उन्होंने कहा कि इस बात पर ध्यान दिया जाना चाहिए कि किसी भी यात्रा इतिहास वाले व्यक्ति की पहचान जल्द से जल्द की जाए ताकि कोरोना वायरस अन्य लोगों तक न पहुॅच सके। उन्होंने कहा कि ऐसी यात्रा करके आए लोगों को घर पर क्वारनटाईन किया जाए। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं तथा स्थानीय शहरी निकायों के चुने हुए प्रतिनिधियों को अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए शामिल किया जाए जिनका राज्य के भीतर अथवा राज्य से बाहर यात्रा का इतिहास है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान शुरू किया गया है जिसके तहत कोविड-19 के लक्ष्णों के बारे में जानकारी लेने के लिए 8000 टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत टीमें घर-घर जाकर प्रत्येक व्यक्ति की स्वास्थ्य की जानकारी लेंगी और गूगल फार्म के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग के साथ सांझा करेंगी।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि एक्टिव केस फाइंडिंग टीमों को मास्क, दस्ताने और सुरक्षा उपकरण प्रदान किए जाएं ताकि वे बिना किसी भय के कुशलतापूर्वक अपने कार्य को पूरा कर सकें। उन्होंने कहा कि तबलीगी जमात द्वारा कोरोना फैलने का मामला नहीं होता तो राज्य में कोरोना वायरस का कोई भी मामला नहीं था क्योंकि टांडा मैडिकल कालेज में दाखिल महिला की कोरोना वायरस की रिपोर्ट हाल ही में नैगेटिव पाई गई है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में अब तक 4038 लोगों को कोरोना वायरस की निगरानी में रखा गया है जिसमें से 1655 लोगों ने 28 दिनों की निगरानी अवधि को पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि आज कोविड-19 के 29 लोगों की जांच की गई जिसमें से टांडा मैडिकल कालेज के 23 सैंपल नैगेटिव पाए गए हैं और आई.जी.एम.सी. शिमला से लिए गए 6 सैंपलों की रिपोर्ट भी नैगेटिव पाई गई है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के लिए प्रदेश में कुल 296 लोगों की जांच की जा चुकी है और अब तक कुल 6 मामले पाॅजिटिव पाए गए हैं।

मुख्य सचिव अनिल खाची, पुलिस महानिदेशक एस.आर.मरड़ी, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) मनोज कुमार, अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) आर.डी.धीमान तथा मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुण्डु भी बैठक में उपस्थित थे।

2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *