कांगड़ा मुख्य - पृष्ठ हिमाचल प्रदेश

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने एक वर्ष में 13 करोड़ 43 लाख 94 हजार रुपये किए खर्च : मनकोटिया

vishak
1
पहली नजर धर्मशाला

धर्मशाला में बोले पूर्व पर्यटन मंत्री मेजर विजय सिंह मनकोटिया- पी चिदंबरम जेल में हैं तो वीरभद्र क्यों नहीं , पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने एक वर्ष में 13 करोड़ 43 लाख 94 हजार रुपये किए खर्च , 5 वर्षों में 1 अरब 11 करोड़ 74 लाख रुपये के करीब रहा ख़र्चा

हिमाचल प्रदेश में उपचुनावों की हवा ने नेताओं को फ़िर से जगा दिया। पूर्व कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे विजय सिंह मनकोटिया ने एक बार पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर तीखा प्रहार किया। धर्मशाला में मनकोटिया ने कहा कि आज पी चिदंबरम जेल में हैं तो वीरभद्र क्यों नहीं। प्रदेश में मुख्यमंत्री रहते हुए वीरभद्र सिंह ने सिर्फ स्टेट हेलिकॉप्टर पर मौज उड़ाई है।
मनकोटिया ने खुलासा करते हुए कहा कि 1 साल में वीरभद्र सिंह ने 13 करोड़ 43 लाख 94 हज़ार का खर्च किया है जो 5 सालों में 1 अरब 11 करोड़ 74 के करीब रहा। ये 2013 का आंकड़ा है जो वीरभद्र सिंह ने बतौर मुख्यमंत्री ही खर्च कर दिया। 111 करोड़ की राशि तो केवल उन्होंने अपने हेलिकॉप्टर के लिए ही खर्च की है।
मनकोटिया ने भत्ते बढ़ोतरी पर जयराम सरकार को भी कटघरे में खड़ा किया। मनकोटिया ने कहा कि मुख्यमंत्री औऱ उनके नेता अपनी आमदनी के बजाय देश की आमदनी बढ़ाने पर जोर दें। कब तक केंद्र सरकार के भरोसे काम चलता रहेगा। आज के दौर में सरकार की आमदनी का जरिया शराब तक की सीमित रह गया है। मुख्यमंत्री अपने खर्चों को भी कंट्रोल करें औऱ इन्वेस्टर मीट से पहले श्वेत पत्र जारी करें।
मानकोटिया ने जयराम सरकार से सेंट्रल यूनिवर्सिटी, इंटरनेशनल एयरपोर्ट एक्सटेंशन और स्मार्ट सिटी को लेकर भी सवाल किया उन्होंने कहा कि सरकार दो साल का कार्यकाल पूरा करने जा रही है लेकिन अभी तक इन सब का कुछ अता पता नही हैपूर्व सीएम वीरभद्र सिंह का सूचना अधिकार के तहत ब्यौरा जुटायावक्त-वक्त पर सामने आकर सवालिया निशान खडे़ करने वाले मेजर विजय सिंह मानकोटिया ने आज सरकार से पूछा है कि कहां गई सेंट्रल यूनिवर्सिटी, इंटरनेशनल एयरपोर्ट एक्सटेंशन और स्मार्ट सिटी। मानकोटिया ने ये सवाल सरकार से उस वक्त पूछे हैं जब धर्मशाला में विधानसभा का उपचुनाव होने वाला है। धर्मशाला उप चुनाव को लेकर मनकोटिया ने भाजपा और कांग्रेस दोनों पर निशाना साधा और धर्मशाला से किसी अच्छे उमीदवार को टिकट देने का आग्रह किया उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नही हुआ तो वह धर्मशाला उपचुनाव में सक्रिय होकर किसी अच्छे उमीदवार का समर्थन करेगे उन्होंने खुद धर्मशाला उपचुनाव लड़ने से इंकार किया।

2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *